छत्तीसगढ़ सरकार की राजनांदगाँव पुलिस दे रही नक्सली बताकर एनकाउंटर में मारने की धमकी

अम्बेडकराईट पार्टी ऑफ इंडिया पार्टी के कार्यकर्ताओं को छत्तीसगढ़ सरकार की राजनांदगाँव पुलिस दे रही धमकी

अम्बेडकराईट पार्टी ऑफ इंडिया के मानपुर ब्लाक  के सचिव धनराज बाम्बोड़े ने पुलिस मुख्यालय में शिकायत की है | जिसके अनुसार धनराज बाम्बोड़े, अर्जुन सिंह ठाकुर राष्ट्रीय महासचिव श्याम सिंह वड्डे, जिला अध्यक्ष सियाराम नरोटी, कार्यकर्ता एवं पार्टी के अन्य सदस्यों को झूठे आधार पर नक्सली प्रकरण में गिरफ्तार करने एवं एनकाउंटर की धमकी दी जा रही है | शिकायत पत्र में धनराज बाम्बोड़े द्वारा लिखा गया है कि पुलिस अधीक्षक राजनांदगांव के समक्ष  ग्राम औंधी विकासखण्ड मानपुर में सट्टा कारोबार में कानूनी कारवाई  हेतु 23 सितम्बर 2016 को आवेदन प्रस्तुत किया था। जिसमें राजू राजपूत, बालकृष्ण मेश्राम, भूपेन्द्र उर्फ गोलू, अर्जुन चिकवा एवं राजदीप साव के विरूद्ध कार्यवाही करने हेतु दिया गया था। इनके द्वारा अवैध सट्टा एवं अवैध शराब का कारोबार किया जा रहा था | इन लोगों की रिपोर्ट के आधार पर वहाँ सट्टा और शराब का काम तो बंद हुआ किन्तु इन्हें इस शिकायत को लेकर धमकी मिलनी शुरू हो गई |

इनका कहना है कि इस कारोबार के पीछे राजनांदगाँव पुलिस की मिलीभगत है | जिसके कारण थाना प्रभारी प्रमोद अमलतास एवं पुलिस अधीक्षक प्रशांत अग्रवाल के द्वारा इनके विरूद्ध षडय़ंत्र किया जा रहा है। दिनांक 05 अक्टूबर 2016 को धनराज बाम्बोड़े को मानपुर पुलिस ने  रात को उठा लिया और झूठे नक्सली केस में फंसाने एवं फर्जी मुठभेड़ में मार गिराने की धमकी दिया गया साथ ही इनसे जबरदस्ती कई सारे कोरे कागज में थाना प्रभारी प्रमोद अमलतास के द्वारा दस्तखत करवाया गया |

इनका आरोप है कि पुलिस इन्हें भी फर्जी मुठभेड़ में मारकर नक्सली साबित कर देगी या मुलमुला जैसे थाने लाकर पिटाई कर हत्या की जा सकती है । पुलिस अधीक्षक अग्रवाल ने इनसे कहा है तुम सभी नक्सली हो तुम्हारे खिलाफ शिकायत है | इस मामले में राष्ट्रपति, मुख्य न्यायाधीश, अनुसूचित जाति/जनजाति आयोग एवं मुख्य निर्वाचन अधिकारी को भी शिकायत की गई है |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *